Ujjain Rep Case : उज्जैन रेप केस के दोषी को पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया | पुलिस को चकमा देकर भाग रहा था दो पुलिस कर्मी को चोट आई |   

Ujjain Rep Case : उज्जैन रेप केस के दोषी को पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया | पुलिस को चकमा देकर भाग रहा था दो पुलिस कर्मी को चोट आई |   

तो दोस्तों आपको बता दे की बताया जा रहा है की उज्जैन रेप केस का आरोपी पकड़ा गया है और आपको बता दे की बताया जा रहा है इस दोषी का नाम राजेश है और आपको बता दे की इसके साथ तीन और भी अर्रोपियो को पुलिस ने पकड़ा है लेकिन आपको बता दे की लोगो का कहेना है एसे आरोपिओ को तो तुरंत ही फासी दे देना चाहिए मगर आपको बता दे की पुलिस वालो का कहेना है अभी तक कोई भी ठोस सभुत नहीं मिला है अभी जाचे चल रही जैसे ही जाचे कम्पलीट होती है वैसे हम इस दोषी को सज के लिए भेज देंगे लेकिन आपको बता दे की अभी फलहाल में दोषी होस्पिटल में है क्योकि पुलिस ने उसे उस जगह पर ले गयी थी जहा पर बच्ची का रेप किया था उसने तो वाही पर जब पुलिस उसे ले गयी तो वह आरोपी मौका देखते हुए वहा से भागने की कोशिस किया और फिर जब दो पुलिस कर्मी उसे पकड़ने की कोशी किये तो वह उन्हें धक्का देकर एक दीवार को डाकने की कोशिस किया तभी वह उससे टकराकर वाही पर गिर गया जिससे उसके पैर में काफी गंभीर चोट आई है और वह इस समय बेहोस होकर होस्पिटल में उसका इलाज चल रहा है और आपको बता दे की लगो का कहेना है एसे आरोपिओ को तो नहीं छोड़ना चाहिए क्योकि ओ आरोपी जो समाज में गद्की फैला रहे है और आपको बता दे की यह आरोपी जैसे ही ठीक होता है तो पुलिस कर्मी इसे सजा दिलाने लेकर चले जायेंगे और आपको बता दे की बताया जा की बच्ची अभी ठीक है |

पुलिस को धक्का देकर भाग रहा था दो पुलिस कर्मी को चोट आई |   

तो आपको बता दे की या ऑटो वाला रात में उस बच्ची को अकेले देखकर उसका मन पापी हो गया और वह बच्ची को अपने बातो में बहला फुसलाकर उसे अपने ऑटो में बैठाकर उसके साथ रेप करने लिए वह निर्दयी उस बच्ची को अपने ऑटो में बैठा कर खूब इधर उधर उसे गुमराह करता रहा और आपको बता दे की फिर दोषी 10 से 11 बजे की बिच में उस बच्ची के साथी दुष्कर्म करता है और आपको बता दे की वहा पर कई ऑटो वाले थे मगर उसके साथ वहा पर वाही ऑटो वाला उसके साथ दुष्कर्म किया था और उसके बाद उस बच्ची को लेजाकर उसे सुनसान सड़क पर छोड़कर वहा से चला जाता है और आपको बता दे की फिर वह बच्ची अपने मदद के लिए सडको पर वह चलती रही और उसकी ब्लेडिंग भी रो रही थी लेकिन किसी ने भी उसकी मदद करने की नहीं सोची फिर 8 किलो मीटर पैदल चलने के बाद उसे कोई एक व्यक्ति मिले जो उसकी मदद किये और फी उन्हने पुलिस को सुचना दी और पुलिस वाले आकर उस बच्ची को होस्पिटल लेकर गए और फिर उसका वहा पर इलाज हुआ फिर वह के सारे सीसी टीवी कैमरे को चेक करने बाद उस ऑटो वाले को पुलिस ने पकड़ा और फिर उससे पूछ ताछ चालू हो गयी फिर पुलिस ने उसके साथ तीन और आरोपी को पकड़ा है तो दोस्तों आपको बता दे की यह सब क्या हो गया है लोगो को जो दुसरो के बच्चियों के साथ येसा गन्दा काम कर रहे है अब आपको बता दे की लोगो का लोगो से भरोषा ही बिलकुल हट गया है समज में कई तरह के लोग होते है कोई बच्चियियो की इज्जत करता है तो कोई उन्हें बाज़ार में नीलाम कर देता है तो दोस्तों आपको बता दे की लोगो का कहेना है इस दोषी को जल्दी फासी दी जाए ताकि फिर कोई भी येसा करने डरे और चाह कर भी येसा काम न कर पाए और करने से पहले किसी की भी रूह काप जाए |

 

Leave a Comment