Hariyana Nuh : नूंह में दंगायियो के घरो पर चला बुलडोजर | 200 से जादा अपराधी गिरफ्तार हो गए है मोनू मानेसर को पुलिस ने लिए अपने हिरासत में |

Hariyana Nuh : नूंह में दंगायियो के घरो पर चला बुलडोजर | 200 से जादा अपराधी गिरफ्तार हो गए है मोनू मानेसर को पुलिस ने लिए अपने हिरासत में |

बताया जा रहा है की हरियाणा के नूंह जिले में दंगा करने वाले अपराधियों के घरो पर सरकार ने बुलडोजर चला रही है और आपको बता दे की दंगायियो ने अपना घर पहाड़ी के पीछे सरकारी जमीन पर कब्ज़ा करके घर व माकन बनाकर रह रहे थे | लोगो का कहेना है की उपद्रवी उसी इलाके के ओर से आये होंगे जिधर गैर क़ानूनी घर व् माकन बनाया गया था लोगो ने बताया की नाल्हड़ शिव मंदिर के पीछे बसे बस्तिओ से ही दंगायियो का आना सुरु हुआ था | पुलिस प्रशाशन भी जाँच कर रही है दंगाई किधर से आये होंगे लोगो का कहेना है की दंगायियो के पास काफी मात्र में हथियारे भी थी और उन्हने सबसे पहले हवा में फायरिंग करने लगे | आपको बता दे की हरियाणा के नूंह जिले में हिंसा को लेकर जो विडियो सामने आया है उसे लेकर पुलिस प्रशाशन ने दंगायियो को पहचान करके उसे गिरफ्तार करने का काम कर रही है | पुलिस ने एक एक मुजरिम को पहचानकर उसे कड़ी से  कड़ी सजा देगी और बताया जा रहा है की विडियो के माध्यम से यह पता लगाया जा रहा है की पुलिस पर हमला करने वाले अपराधी कौन कौन है पुलिस उन्हें पकड़कर जेल में डाल देगी | बताया जा रहा है की वहा शिव मंदिर के उंदर फसे शिव भक्तो को ममता पुलिस कर्मी ने उन सब भक्तो को पीछे के रस्ते वहा से बाहर निकल दी | बताया जा रहा है की हरियाणा के विवाद को लेकर कई और जिलो में हिंसा भड़क गयी है नूंह जिले में हिंसा को लेकर अब वहा पर सब शांत है और पुलिस की तैनाती वहा पर बढ़ा दी गयी है |

मोनू मानेसर को पुलिस ने लिए अपने हिरासत में |

हरियाणा के नूंह जिले में हिंसा को लेकर काफी लोगो का कहेना है की केवल मुसलमानों को ही गिरफ्तार किया जा रहा है जबकि येसा है गोली फर्यिंग तो दोनों तरफ से हुयी थी | लेकिन मुसलमानों का मानना है की हमारे खाली मुसलमानों भाइयो को ही गिरफ्तार किया जा रहा है | लेकिन लोगो का कहेना है की येसा नहीं है जबकि उस हिंसा में केवल जाती को चिन्ह कर ही उन्हें मारा जा रहा था | बताया जा रहा है की खाली हिन्दू भयियो को ही मारा जा रहा था जाती जानकार ही उन्हें मारा गया है मुस्लिमो का कहेना है की येसा क्यों हो रहा है की केवल मुसलमानों को जेल भेजा जा रहा है लेकिन वाही पर पुलिस का कहेना है की विडियो में पहचानकर जो जो विडियो में हिंसा कर रहे है केवल उन्हें ही पिलिक पकड़ रही है | बताया जा रहा की अरावली पहाड़ी में छुपे दरिंदो ने कई घंटो तक गोली फायरिंग किये और उस शिव मंदिर में फसे लोग काफी डरे हुए थे की अब क्या हॉग जो जहा ओ वहा अपनी जान बचाकर भाग रहा था और गाडियों के पीछे भी छिप रहे थे | सरकार ने फैसला  ले ली है की विडियो में जितने भी दरिन्दे दिख रहे अहि उन्हें पुलिस पकड़कर उन्हें अपने हिरासत में लेकर उनके साथ पूछताछ करे और जानकार इकठ्ठा करे की इन सबके पीछे कौन है और किसने करवाया होगा येसा काम | साथ साथ सरकार आदेश दी है जितने भी दंगाई पकडे जाते है उनके घरो का पता लगाकर उनके घरो के पेपर देखकर उनके घरो पर बुलडोजर चलाने का आदेश दी है येसा आदेश होते ही कई दरिंदो के घरो पर बुलडोजर चला दिया गया है | इन सबके पीछे मोनू मानेसर का नाम आ रहा है और पुलिस मोनू मानेसर की तलाश में लगी है |

Leave a Comment