Chandrayan 3 : प्रज्ञान रोवर 14 दिनों के लिए चाँद पर सो गया | 22 सितम्बर को चाँद पर प्रज्ञान फिर से चलेगा |

Chandrayan 3 : प्रज्ञान रोवर 14 दिनों के लिए चाँद पर सो गया | 22 सितम्बर को चाँद पर प्रज्ञान फिर से चलेगा |

तो आप सब लोग जानते है की चन्द्रमा पर 14 दिन का रात और 14 दिनों दिन होता है तो हमारे इसरो के वैज्ञानिकों ने प्रज्ञान रोवर को 14 दिनों के लिए चन्द्रमा काम कराये और भी अब वहा पर 14 दिनों ताल रात रहेगी तो इस लिए अब्प्रज्ञान रोवर को दो दिन पहले से ही उसकी बैट्री को फुल चार्ज करके उसे सिलिपींग मोड़ में कर दिया गया है बताया जा रहा है की जिस काम के लिए इसरो ने चंद्रयान 3 मिशन के तहत प्रज्ञान रोवर को चाँद पर रन कर रहे थे वह काम पूरा हो गया है और बताया जा रहा है की अब 14 दिनों बाद जब चन्द्रमा पर सूर्य उदय होगा तब सूर्य की किरने प्रज्ञान के सोलर पर पड़ेगी तक प्रज्ञान रोवर अगर फिर से काम करना शुरू कर देगा तो यह इसरो  के वैज्ञानिको बोनस मन जाएगा और बताया जा रहा है प्रज्ञान ने चन्द्रमा पर काफी सारी जांचे की है जो की प्रज्ञान को सिलिपिंग मोड़ में जाने से पहले ही प्रज्ञान ने सारी जानकारी इसरो को भेजी दिया है फिर उसे चाँद पर सुला दिया गया है 14 दिनों के लिए बताया जा रहा है की चन्द्रमा पर रात के समय दक्षिणी ध्रुव पर तापमान माइनस 238 डिग्री तक हो जाता है तो लोगो के काफी सारे सवाल है की क्या प्रज्ञान इतनी ठंढ झेल पायेगा और फिर से 14 दिनों के बाद क्या प्रज्ञान काम करना शुरू कर देगा अब तो यह कहना मुस्किल ही है लेकिन बताया जा रहा है की इसरो को पूरा विश्वाश है 14 दिनों बाद प्रज्ञान फिर से चाँद पर अपनी खोज चालू कर देगा और 14 दिनों तक चन्द्रमा काम करता रहेगा |

22 सितम्बर को चाँद पर प्रज्ञान फिर से चलेगा |

तो दोस्तों आप लोगो को क्या लगता है की प्रज्ञान 14 दिनों के बाद फिर से काम करना शुरू कर देगा अगर येसा हुआ तो भारत के लिए और भी खुसी की बात और बताया जा रहा है की चाँद पर प्रज्ञान 4 मीटर गढ्ढे में गिरने वाला था मगर इसरो ने प्रज्ञान का दिसा मोड़ कर उसे ख़राब होने बचाया और उनका कहेना है प्रज्ञान रोवर को जिस काम से भेजा गया था वहा काम तो पूरा हो गया है और बताया जा रहा है 14 दिनों के बाद प्रज्ञान फिर से एक्टिव हुआ तो वह फिर से काम करना शुरू करेगा और आपको बता दे की बताया जा रहा है चाँद पर प्रज्ञान भूकंप की भी जांचे की है और बहुत सारी जांचे की है प्रज्ञान ने चन्द्रमा पर वह सब डेटा इसरो के वैज्ञानिकों को भेज कर प्रज्ञान रोवर सो गए है दोनों आपको बता दे इसके बाद इसरो ने तो सूर्य पर भी जाने के लिए सूर्ययान को भेज दिया है और वह इस समय पृथ्वी के कक्षा में सूर्य यान पहुच चूका है और बताया जा रहा है यह पृथ्वी से 15 लाख किलोमीटर रहकर सूर्य के बारे में इसरो को जानकारी देता रहेगा आपको बता दे की बताया जा रहा है की भारत ने दोदो कामयाबी हासिल कर ली है और ये सब पाकिस्तान देखर खु हैरान हो रहे है और काफी पाकिस्तानी तो भारत के इस सफल अभियान बहुत ही उनको दुःख हो रहा है उनका कहेना है भारत हमारा दुश्मन है और ओ कहा से कहा पहुच गया और हम लोग अभी अपने झंडे में ही खूब लड़ रहे है और हमारा देश भी इस समय बहुत ही गरीब हो गया है और आपको बता दे की पकिस्तान में इस समय वहा के लोगो को तो मुस्किल से खाने को भी मिल रहा है चंद्रयान 3 के सफल होने से भारत पुरे देश में मशुर हो गया है |   

 

 

 

Leave a Comment