Chandrayan 3 : चंद्रयान 3 अब बढ़ा एक और सफलता की ओर चन्द्रमा पर पानी मिल गया |

Chandrayan 3 : चंद्रयान 3 अब बढ़ा एक और सफलता की ओर चन्द्रमा पर पानी मिल गया |

तो दोस्तों आज बच्चा बच्चा चंद्रयान 3 के बारे में जनता है की इसरो के वैज्ञानिको ने चंद्रयान 3 मिशन के तहत चंद्रयान 3 को चन्द्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग कराये है और आपको बता दे की चन्द्रमा पर कुछ एसी भी चिचे है जो चंद्रयान 3 को भेजा गया है पता लगाने के लिए आपको बता दे की चंद्रयान 3 लैंडिंग करते ही रोवर में प्रज्ञान बाहर निकला और चन्द्रमा की सतह पर काम करना शुरू कर दिया बताया जा रहा है प्रज्ञान रोवर को चन्द्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतारा गया है ताकि वहा पर पहले ही पता लगाया गया था की वहा पर पानी की मात्रा जादे है और इसी लिए चंद्रयान 3 को चन्द्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतारा गया है ताकि वहा पर पानी मिल एके और उस पानी के माध्यम से वहा पर वायुमंडल बनाया जाएगा और वहा पर और भी चीजो का खोज करेगा प्रज्ञान रोवर आपको बता दे की इसरो के वैज्ञानिको ने प्रज्ञान रोवर को इस बार काफी मजबूती से बनाये है ताकि वह किसी भी चटान से भी टकराए तो उसे कुछ भी न हो आपको बता दे की यह सफलता इसरो के लिय बहुत लाभ दायक है इसरो इसके वजह से चन्द्रमा पर क्या है पता लगा सकेगा और आपको बता दे की इसरो के वैज्ञानिको का कहेना है की हम जल्द ही चन्द्रमा पर होंगे और हम और लोगो को चन्द्रमा पर भेजने में सफल होंगे आपको बता दे यह इसरो के लिए बहुत ही गर्व की बात है चन्द्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर प्रज्ञान रोवर उतर कर अपना काम शुरू कर दिया है आपको बता दे की चन्द्रमा पर प्रज्ञान काफी चीजो का पता लगाये गा और बताया जा रहा है प्रज्ञान रोवर चन्द्रमा पर भूकम्प का पता लगायगा और यह भी पता लगाएगा की चन्द्रमा पर भूकम्प कब कब होता है |

चंद्रयान 3 का मिशन कब तक का चन्द्रमा पर |

तो दोस्त बताया जा रहा है चंद्रयान ३क मिशन चन्द्रमा पर केवल 14 दिनों का ही है फिर इसके बाद वह सो जाएगा और आपको बता दे की 14 दिनों के चन्द्रमा पर रात हो जाती है फिर जब 14 दिनों के बाद चन्द्रमा पर दिन होगा तब जाकर प्रज्ञान रोवर को इसरो यहाँ से सिगनल भेजेंगे तब जाकर चंद्रयान 3 यानि के प्रज्ञान रोवर फिर से अपना काम करना शुरू कर देगा अकुर आपको बता दे की चन्द्रमा पर कई इसी भी चीजे है जो प्रज्ञान रोवर ने तस्बिरो के माध्यम से इसरो तक भेज दिया है और आपको बता दे की जब चंद्रयान 3 को चन्द्रमा पर भेजा गया तब सबकी नजर केवल इसरो के वैज्ञानिकों पर ही थी क्या होगा चन्द्रमा पर चंद्रयान 3 सॉफ्ट लैंडिंग कर पायेगा या नहीं लेकिन आपको बता दे की इसरो के इतनी मेहनत के कैसे नहीं हो सकता है और बताया जा रहा है की इसरो की पूरी टीम ने रात दिन जग कर चंद्रयान 3 मिशन के लिए काम किये है तो दोस्तों आपको बता दे की आज पूरा देश भारत के इसरो के वैज्ञानिकों सम्मान और बधाई भी लोग दे रहे है लेकिन आपको बता दे की जैसे ही चंद्रयान 3 मिशन कामयाब हुआ वैसे ही लोगो की नजर इसरो के वैज्ञानिकों पर चली गयी और देखने लगे की अब क्या होता है लेकिन चंद्रयान 3 को इसरो के विअग्यानिको ने चन्द्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग करा के एक इतिहास रच दिया है और बताया जा रहा है की प्रज्ञान रोवर के पहियों में भारत का चिन्ह और तिरंगे का दृश्य भी उन पहियों बनाया गया है ताकि जहा जहा प्रज्ञान रोवर चले वहा वहा अपनी छाप छोड़ सके ताकि और कभी कोई भविष्य कोई भी देश अगर वहा पहुचे तो उसे मालूम हो सके की सबसे पहले भारत यहाँ पर कदम रख चूका है |

Leave a Comment