Azamgarh School : श्रेया तिवारी ने स्कूल के तीन मंजिले से कूदकर दी अपनी जान | स्कूल के प्रिंसिपल और क्लास टीचर हुए गिरफ्तार |

Azamgarh School : श्रेया तिवारी ने स्कूल के तीन मंजिले से कूदकर दी अपनी जान | स्कूल के प्रिंसिपल और क्लास टीचर हुए गिरफ्तार |

श्रेया तिवारी की प्रिंसिपल और क्लास टीचर ने श्रेया के साथ येसा क्या गलत किये की श्रेया तिवारी ने स्कूल के तीन मंजिले से कूदकर आत्म हत्या कर ली अगर येसा श्रेया के साथ हो सकता है तो कल दूसरी बच्ची के साथ भी येसा हो सकता है तो दोस्तों अगर आपको प्रिंसिपल और क्लास टीचर की सच्चाई जानना है तो आप लोग इस आर्टिकल्स को पूरा पढ़े |  

बताया जा रहा है की यह घटना आजमगढ़ के गल्स कालेज की है श्रेया नाम की एक 16 वर्ष की बच्ची इस स्कूल में पढ़ती थी | यह घटना बताई जा रही की शुक्रवार की है जब स्कूल में बच्चो का बैग क्लास टीचर चेक कर रहे थे तब बताया जा रहा है की श्रेया तिवारी के बैग में फ़ोन पाया गया | श्रेया तिवारी के क्लास टीचर का कहेना है की स्कूल में फोन लेकर आना मना है और इसी आदेश से हम लोग 15 दिन पर बच्चो का बैग चेक करते है और उसी के दौरान श्रेया तिवारी के बैग में मोबइल फोन पाया गया | और क्लास टीचर का कहेना है की श्रेया से पूछने पर श्रेया ने बताई की वह उसका फोन नहीं है किसी और लड़की ने उसके बैग में फोन रख दिया है क्लास टीचर का कहेना है की जब मैंने इसकी शुचना प्रिंसिपल को देनी चाही तो प्रिंसिपल उस दिन अप्सेंट थी | फिर जब 31 जुलाई की सोमवार को जब श्रेया स्कूल गयी तो क्लास टीचर और प्रिंसिपल ने श्रेया को उस मोबइल फोन के साथ लेकर उसे हर क्लास में लेजाकर उस फोन के बारे में सबसे पूछा गया तो कोई भी जवाब नहीं दिया |

श्रेया तिवारी के साथ उसके क्लास टीचर ने क्या किया |

श्रेया तिवारी के क्लास टीचर ने जब श्रेया के पिता को फोन लगाने की बात किये तो श्रेया ने बोली की सर मेरे पिता जी को फोन मत लगाईये आपको बुलाना है तो मेरी माता जी को फोन करिए सर | तो श्रेया के क्लास टीचर ने सबसे पहले श्रेया के पिता जी के पास फोन लगाये और बोला की आपकी बेटी के बैग में कुछ आपत्ति जनक चिचे पाई गयी है तो आपको सूचित किया जाता है और आपकी बेटी श्रेया का कहेना है कि मेरे पिता जी को मत बुलाईये मेरी माता जी को बुलाईये तब क्लास टीचर ने श्रेया तिवारी के पिता जी से श्रेया की  माता जी का नुम्बर मंगाकर फ़ोन लगाये और उनसे बोले की आपकी बेटी के बैग में आपत्ति जनक चिचे पाई गयी है आपको स्कूल आना पड़ेगा तो श्रेया की माँ ने कहा की मेरा छोटा बेटा स्कूल गया है और मै उसे लेकर आपके पास 1 से 1.30 बजे मै आजाउंगी फिर क्लास टीचर बोले थी है | और श्रेया तिवारी के क्लास टीचर ने श्रेया को पप्रिंसिपल आफिस लेजाकर उसे बाहर खड़ा करके क्लास टीचर उंदर जाकर प्रिंसिपल और क्लास टीचर आपस में बाते करने लगे श्रेया के बारे में |

श्रेया तिवारी ने मजबूर होकर आत्म हत्या कर ली |

फिर बताया गया की श्रेया प्रिंसिपल आफिस के बाहर आधे घंटो तक बाहर कड़ी रही और फिर उसे अपना अपमान सहा नहीं गया और फिर उसने प्रिंसिपल और क्लास टीचर के किये अपमान को सहन नहीं कर पायी और फिर वह श्रेया तिवारी ने अपने स्कूल के तीन मंजिले पर चढ़ कर ऊपर से निचे कूदकर आत्म हत्या कर ली और फिर पुरे कॉलेज में दहसत फ़ैल गयी | और टीचरों ने श्रेया को उठाकर इस्कुटी से उसे होस्पिटल लेकर गए  मगर तबतक श्रेया तिवारी की मृत्यु हो चुकी थी | श्रेया तिवारी की मृत्यु के बाद पुरे स्कूल में सनसनी फ़ैल गयी |

Leave a Comment