Azamgarh : श्रेया तिवारी की माँ बोली प्रिंसिपल और क्लास टीचर ही मेरी बेटी के कातिल है | azamgarh shreya tiwari news

Azamgarh : श्रेया तिवारी की माँ बोली प्रिंसिपल और क्लास टीचर ही मेरी बेटी के कातिल है |

श्रेया तिवारी के मौत के बाद श्रेया की माँ ने रोते हुए बोली है की मै अपने बेटी के कातिल को येसे ही नहीं छोड़ दूंगी | जिन्होंने ने मेरी बेटी के साथ येसा किया है उनको तो सजा मिलनी ही चाहिए और सरकार से मेरी यही निवेदन है की मेरी बेटी श्रेया को न्याय मिलना चाहिए |  

तो दोस्तों अगर आप लोग यहाँ तब पढ़ चुके है तो श्रेया तिवारी के मौत का कारण जानना चाहते है तो आप लोग इस आर्टिकल्स को पूरा ध्यान से पढियेगा |

तो दोस्तों आईये अब पढना शुरू करते है

तो दोस्तों हम आपको बताते है की श्रेया तिवारी के मौत के बाद उनकी माता जी का क्या कहेना है श्रेया तिवारी की माँ ने मिडिया के सामने बोली है की मेरी बेटी साथ कुछ तो गलत हुआ है वरना वह येसा कदम कभी नहीं उठाती | मेरी बेटी श्रेया के क्लास टीचर का फोन आया तो उनका नंबर मेरे फोन में सेव था अभिषेक राय के नाम से जब मैंने फोन उठाया तो वह बोले की आप श्रेया की माँ बोल रही है न तो बोली हां तो क्लास टीचर अभिषेक राय ने कहा की आप स्कूल आजाओ | श्रेया की माँ बोली की क्या हुआ क्लास टीचर बोले की श्रेया का मामला है आप आजाओ तो श्रेया की माँ बोली क्या मामला है मुझे बताईये तो क्लास टीचर बोले हल्का मामला है बस आप आजाओ तब श्रेया की माँ बोली की मेरी बेटी से बात करा दिजिये मै उससे बात करलुंगी | फिर क्लास टीचर अभिषेक राय बोले नहीं येसा कोई मामला नहीं है बस आप आईये तब श्रेया की माँ बोली थी है मेरे छोटे बेटे की छुट्टी होने वाली मै उसे लेकर आउंगी तो क्लास टीचर बोले थी है |

श्रेया तिवारी ने अपनी माँ के आने से पहले ही तीन मंजिले से कूदकर आत्म हत्या कर ली |

बताया जा रहा है की श्रेया तिवारी की माँ के आने से पहले ही उसे प्रिंसिपल सुमन मिश्रा ने अपने ऑफिस के बाहर खड़ा की थी | बताया जा रहा है की श्रेया तिवारी को मेंटली रूप से परेशान किया गया था और उसे परेशान करने वाले उसकी प्रिंसिपल और क्लास टीचर थे जो श्रेया तिवारी के बारे में उसे हर क्लास में उसकी अप्मानियता की गयी थी और यही वजह थी की श्रेया तिवारी ने अपनी अपमान को सह न सकी और फिर वह तीन मंजिला ऊपर से जाकर निचे कूदकर आपनी जान दे दी | फिर जब श्रेया तिवारी की माँ जब अपनी बेटी से मिलने आई तो उन्हें सब सच सच नहीं बताया जा रहा था | श्रेया तिवारी के निचे गिरने के बाद उसे उठाकर वहा जहा पर वह गिरी थी उस जगह को पानी से धो दिया गया था प्रिंसिपल और क्लास टीचर ने मिलकर उसे कपडे में लपेट कर उसे एम्बुलेंस में रखा गया था | जब श्रेया तिवारी के पिता जी आये तब वहा गेट पर गार्ड से पूछे की किश्का तबियत ख़राब है कही मेरी बेटी श्रेया तो नहीं है तो गार्ड ने श्रेया के पिता को डाटकर बोला की नहीं यह तुम्हारी बेटी नहीं है तुम प्रिंसिपल ऑफिस में जाओ | फिर श्रेया के पिता जी प्रिंसिपल ऑफिस में गए श्रेया तिवारी के पिता जी का कहेना है की मुझे प्रिंसिपल ऑफिस में भेजकर मुझे एक से डेढ़ घंटो तक गुमराह किया गया | फिर मुझे बताया की श्रेया ने ऊपर से कूदकर अपनी जान दे दी है फिर वाही पर श्रेया के माता पिता दोनों खूब रोने लगे | फिर सुचना के अनुसार पुलिस वहा पर आकर श्रेया की माता पिता के बयान पर प्रिंसिपल सुमन मिश्रा और क्लास टीचर अभिषेक राय को पुलिस ने अपने हिरासत में लेकर पूछताछ चालू कर दिए है |

Leave a Comment